Top 20 Munshi Premchand Ki Kahani | मुंशी प्रेमचंद की कहानी | Premchand ki kahaniya

30 Munshi Premchand Ki Kahani|मुंशी प्रेमचंद की कहानी | कहानी हिंदी में 


Munshi Premchand Ki Kahani



Top 30 Munshi Premchand Ki Kahani के लिस्ट को सुरु करने से पहले हम 20वी सदी के सबसे मशहूर लेखख प्रेमचंद की कहानी लिखने की सुरुआत कैसे होती है। और उनमें कहानिया लिखने के जिज्ञासा कहा से जाग उठती हैं उसे पहले हम देखलेते हैं ।

मुंशी प्रेमचंद का जन्म वनारस के एक छोटे से शहर में हुआ था और उनके परिवार में माता पिता और एक बड़ी बहन थी । कुछ समय बाद जब प्रेम चंद बड़े  होते हैं तो उनकी माँ का बीमारी के कारण निधन हो जाता हैं और म के गुजर ने के बाद वे घर में अकेला हो जाते हैं बहन की शादी हो जाती नहीं और पिता आपमे कामो व्यस्त रेते थे इसी अकेले पन के कारण प्रेमचंद का किताबो की तरफ रुचि बढ़ने लगी और वे सिर्फ दिन भर कोने में किताब लेके बैठे रहते थे । 


धीरे धीरे उन्होंने ने लिखना चालू कर दिया और अपने महान लेखन कला के कारण आगे चल के वे एक महान लेखख बने और अपने शदी यानी कि 20वी शदी के सबसे महान और प्रशिध लेखक बने । अब चलिए हम 30 मुंशी प्रेमचंद की कहानी  की  तरफ बढ़ते हैं  


Top 30 Munshi Premchand Ki Kahani |  कहानी हिंदी में 


1-:प्रेमचंद की कहानी -:  जमाई राजा |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से शिक्षा

इस कहानी में प्रेमचंद जी ने यह दर्शाया हैं कि कैसे एक दामाद की इज्ज़त नही की जाती अगर वह एक घर जमाई बन कर अपने ससुराल मे जीवन व्यापन करता हैं । 


2-:प्रेमचंद की कहानी -:  विजय |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से शिक्षा


किसी चीज के मोह में पड़ना या लालच करना खुशहाल जीवन को कैद कर सकता है। वहीं, अगर मजबूत इरादों से इनका सामना किया जाए, तो इनसे छुटकारा पाया जा सकता है।



3-:प्रेमचंद की कहानी -:  आप बीती |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख
 
मुंशी प्रेमचंद की इस कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि व्यक्ति को किसी के लिए भी तुरंत राय नहीं बना लेनी चाहिए।


4-:प्रेमचंद की कहानी -: अनुभव|Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 

स्वाभिमान व त्याग की भावना से किया हर काम किसी के दिल में आपके लिए आत्मसम्मान को बढ़ा सकता है। साथ ही बुरा वक्त अपनों व परायों की सही पहचान भी करा देता है।


5-:प्रेमचंद की कहानी -:  अंधेर |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 

मुसीबत पड़ने पर दिमाग से काम लेना चाहिए, यूं ही किसी पर भी भरोसा नहीं करना चाहिए।


6-:प्रेमचंद की कहानी -:  इदगाह |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 

अपनी सारी इच्छाओं और लालसाओं को त्यागकर, मन में दया और प्यार की भावना रखना ही हमें सबसे धनवान, साहसी और बड़ा बनाता है।


 
7-:प्रेमचंद की कहानी -:  निर्वासन |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 

विपरित परिस्थिति में किसी भी गैर पर यूं ही भरोसा नहीं कर लेना चाहिए। अपनी आंख और कान के साथ ही बुद्धि का भी उपयोग करना चाहिए।



8-:प्रेमचंद की कहानी -: स्त्री और पुरीष|Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 

व्यक्ति की बाहरी सुंदरता नहीं, बल्कि मन की सुंदरता देखनी चाहिए। बाहरी सुंदरता कभी भी फीकी पड़ सकती है, लेकिन जिसका मन सुंदर है, वो व्यक्ति हमेशा ही सुंदर रहता है।



9-:प्रेमचंद की कहानी -: कौशल |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 


आलस्य में इंसान कई बार अपनों की इच्छा पूरी नहीं करता है, लेकिन जब उसपर जिम्मेदारी का भार पड़ता है, तो वो उसे किसी भी तरीके से पूरा कर लेता है।


10-:प्रेमचंद की कहानी - वासना की कड़ियाँ  |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 


‘वासना की कड़ियां’ कहानी से हमें ये शिक्षा मिलती है कि वासना (बुरी इच्छा) बड़े से बड़े बहादुर व्यक्ति को भी के अंत की ओर ले जा सकती है। किसी भी स्त्री को बुरी नजर से देखने वाले व्यक्ति का कभी भी भला नहीं होता, बल्कि उसका अंत ही होता है।




11-:प्रेमचंद की कहानी -:  वफ़ा का खंजर  |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 


प्रेमचंद की कहानी वफा का खंजर यह सीख देती है कि लड़ाई विनाश लेकर आती है, जितना हो सके युद्ध को टालकर बातों से चीजें सुलझानी चाहिए। दूसरी सीख यह है कि हमेशा अपनी काबिलियत के दम पर ही फैसला लें। अपने रिश्तेदारों पर भी भरोसा करने से कई बार दगा मिल जाती है।


12-:प्रेमचंद की कहानी -: नेउर |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 


मुंशी प्रेमचंद की कहानी नेउर से हमें ये सीख मिलती है कि ईमानदारी और संस्कार सबसे बड़े हैं और इंसान को धन का लोभ नहीं करना चाहिए।



13-:प्रेमचंद की कहानी -: उध्दार |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 


इंसान को स्वार्थ में इस तरह से नहीं पड़ना चाहिए कि उसे और कुछ न सूझे। हमेशा दूसरों के हित के लिए ही सोचना चाहिए।



14-:प्रेमचंद की कहानी -:  नैराश्य लीला|Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख


हमें कभी भी स्त्री और पुरुष में भेद नहीं करना चाहिए, दोनों ही सुखी और स्वतंत्र जीवन जीने के समान रूप से अधिकारी होते हैं।


15-: प्रेमचंद की कहानी -: एक आंच कसर |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 


झूठ-फरेब की उम्र लंबी नहीं होती। सच कभी-न-कभी सामने आ ही जाता है। सच सामने आने का रास्ता खुद ढूंढता और झूठ का भांडा फोड़ देता है। दूसरी सीख यह मिलती है कि दहेज एक कुप्रथा है, जिसे किसी को भी बढ़ावा नहीं देना चाहिए


16-:प्रेमचंद की कहानी -: दिक्कर  |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 


इस कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि हमें अपनों के साथ कभी भी धोखा या गद्दारी नहीं करनी चाहिए। ऐसा करना पाप होता है, जिसकी सजा हमें मिल ही जाती है। वहीं, सच्चा देशवासी वही होता है जो अपनों से पहले देशहित का सोचे।



17-: प्रेमचंद की कहानी -:पाँच परमेश्वर  |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 


जब हमारे हाथ में निर्णय लेने की शक्ति हो, तो हमें किसी के साथ पक्षपात नहीं करना चाहिए। एक आदर्श न्यायकर्ता वही है, जो सबको समान रूप से देखे।


18-:प्रेमचंद की कहानी -: पुश की रात  |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 

मजबूरी में इंसान को कई बार न चाहते हुए भी कठिन फैसले लेने पड़ते हैं, जो हमारे भविष्य को प्रभावित कर सकते हैं। विपदा कभी भी आ सकती है, इसलिए हमेशा चौकस रहना जरूरी है।


19-: प्रेमचंद की कहानी -: दो बैलो की कथा |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख


इस कहानी से हमें दो बातें सीखने को मिलती है, पहली यह कि हमें अपनी स्वाधीनता के लिए अपने अंतिम समय तक संघर्ष करते रहना चाहिए। दूसरी सीख यह मिलती है कि हमारे जीवन में चाहे कितनी भी मुश्किलें क्यों न आए, लेकिन सच्चे दोस्त हमेशा साथ निभाते हैं।


20-: प्रेमचंद की कहानी -: नरक का मार्ग  |Munshi Premachand ki kahani in hindi 

कहानी से सीख 


बेटी का विवाह हमेशा योग्य वर से ही करना चाहिए। ऐसा न करने से उसका जीवन नरक के समान हो सकता है। योग्य वर न मिले, तो सही वक्त के लिए रुकिए, लेकिन आनन-फानन में किसी से भी यूं ही बेटी का विवाह न करें।




उम्मीद हैं ये आर्टिकल आपको पसंद आया होगा कृपया अगर आपको ये आर्टिकल अछा लगा तो अपने फ्रेंड्स के साथ जरूर से शेयर करियेगा । धन्यबाद 

अन्य पढ़ें 


Story in hindi 


कहानी हिंदी में 


Shiba inu coin price prediction 


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ